Ram Bhakt Hanuman Logo

श्री राम भक्त हनुमान

English Website हनुमानजी श्री राम पूजन विधि


रामनवमी का त्यौहार

रामनवमी का त्यौहार भगवान श्री राम के जन्मोस्तव के रूप में बढ़ी धूम धाम से सम्पूर्ण भारत में मनाया जाता है | यह दिन हर साल चैत्र महीने (March-April)) में नवमी को आता है | सनातन धर्मी राम भक्त बड़ी उत्सुकता से इस दिन श्री राम के जन्म का उत्सव मनाते है | भगवान श्री राम अपने मानवीय गुणों से सभी हिन्दुओ के लिए हमेशा एक आदर्श देवता रहे है | वे सबसे अच्छे पुत्र , पति , राजा और पिता के रूप में देखे जाते है | श्री राम नवमी त्यौहार

रामनवमी पर कैसे करे पूजा जाने :

रामनवमी के दिन श्री राम भक्त भगवान प्रभु के लिए व्रत रखते है | श्री राम के मंत्रो का उच्चारण करते है और उनके भजन सुनते और गाते है | कुल मिलाकर पूरा दिन राम भक्ति में लगे रहते है | शाम को राम मंदिर में या अपने घर पर राम दरबार को सजाते है और प्रभु के भोग लगाकर अपना व्रत खोलते है | “राम लल्ला की जय “ यही सभी भक्तो के जुबान पर होता है | श्री राम की पूजा के साथ साथ पुरे दरबार की पूजा की जाती है जिसमे श्री राम , उनकी धर्मपति माँ सीता उनके भाई लश्मन , भरत , शत्रुघ्न और श्री हनुमान है |

रामनवमी के दिन क्या करते है राम भक्त :

सूर्योदय से पूर्व उठकर राम भक्त नित्य कर्म से मुक्त होकर नहा लेते है | फिर या तो श्री राम मंदिर में जाकर या फिर अपने घर के मंदिर में राम प्रतिमा में भगवान के रूप को देखकर उन्हें जन्मदिवस की शुभकामनाये देते है | फिर पुष्प माला से श्रृंगार करके आरती करते है और भगवान श्री राम के महा मंत्रो से जयजयकार करते है | राम भक्तो के द्वारा पुरे दिन उपहास रखा जाता है | शाम को श्री राम जी का जुलुस और शोभा यात्रा निकाली जाती है |

रामनवमी के त्यौहार पर रथ यात्राये :

अयोध्या में जन्मे श्री राम के इस जन्मदिवस पर देश भर में श्री राम और उनके भाई लखन , माँ जानकी और हनुमानजी की रथ यात्राये गाजे बाजे के साथ निकाली जाती है | जयकारो की गूंज के साथ हर जगह भक्त टकटकी लगाये इन शोभायात्राओ का आनंद लेते है |

राम नवमी 2018 (२०१८ ) में किस तारीख को आएगी :

वर्ष 2018 में श्री रामजन्मोत्सव राम नवमी 25 March ( २५ मार्च ) रविवार के दिन को मनाई जाएगी |

पूजन का मुहर्त : सुबह 11:09 से दोपहर 01:38 तक


कैसे राम से बड़ा राम का नाम है
भगवान श्री राम की महिमा
श्री राम आरती हिन्दी में पढ़े
श्री राम चालीसा पाठ
भगवान श्री राम के 108 नाम
श्री राम के मुख्य प्रसिद्ध मंदिर
हनुमान जी के प्रसिद्ध मंदिर